Bharat ka Sabse Bada Railway Station 2022 | भारत का सबसे बड़ा रेलवे स्टेशन

Bharat ka Sabse Bada Railway Station -प्रत्येक वर्ष काफी संख्या में लोग यात्रा करने के लिए भारतीय रेलवे का इस्तेमाल करते हैं। पूरे भारत में छोटे-बड़े सभी रेलवे स्टेशनों को मिलाकर कुल सात हजार से भी अधिक रेलवे स्टेशन हैं लेकिन फिर भी मुसाफिरों को अनेक कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। भारतीय रेलवे दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा रेलवे नेटवर्क है। इसे ‘राष्ट्र की परिवहन जीवन रेखा’ के रूप में भी जाना जाता है। 

Bharat ka Sabse Bada Railway Station Kon Sa Hai

भारत में एक वर्ष में रेल द्वारा यात्रा करने वाले यात्रियों की कुल संख्या ऑस्ट्रेलिया की कुल जनसंख्या से भी ज्यादा है। भारत के बड़े रेलवे स्टेशन का उपयोग करने वाले यात्रियों की संख्या साल दर साल बढ़ रही है, इसलिए बढ़ती माँग को पूरा करने के लिए, भारत सरकार ने भारत के बड़े रेलवे स्टेशन 2022 (Major Railway Stations of India 2022) स्थापित किए हैं। भारत के बड़े रेलवे स्टेशन दुनियाँ का इकलौता रेल नेटवर्क है जो रेल मंत्रालय के एकल निकाय (single body) द्वारा संचालित होता है। 

भारत में सबसे बड़ा रेलवे स्टेशन को दो भागों में विभाजित किया जा सकता हैं :-

  • पहला प्लेटफॉर्म की लंबाई के आधार पर,
  • दूसरा सबसे बड़ा रेलवे जंक्शन 

विश्व और भारत का सबसे लंबा रेलवे प्लेटफॉर्म उत्तर प्रदेश में स्थित गोरखपुर स्टेशन और जंक्शन है, इस रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म की लंबाई करीब 1.34 किलोमीटर (0.84 मील) है। गोरखपुर पूर्वोत्तर रेलवे का मुख्यालय भी है।

गोरखपुर जंक्शन, सिर्फ भारत में ही नहीं दुनियाँ का सबसे लंबा रेलवे प्लेटफार्म है। गिनीज बुक ऑफ़ वर्ल्ड रेकॉर्ड्स एवं लिम्का बुक के अनुसार यह भारत ही नहीं विश्व का सर्वाधिक लंबा प्लेटफॉर्म वाला स्टेशन है। गोरखपुर रेलवे स्टेशन उत्तर प्रदेश में है। 

हावड़ा रेलवे स्टेशन भारत का सबसे बड़ा रेलवे स्टेशन और जंक्शन है। यह पश्चिम बंगाल में स्थित है। हावड़ा 23 प्लेटफॉर्म और 26 ट्रैक वाला सबसे बड़ा रेलवे स्टेशन है। इसके अलावा भारत का सबसे व्यस्त रेलवे स्टेशन भी है।

हावड़ा जंक्शन रेलवे स्टेशन हुगली नदी के पश्चिमी तट पर स्थित है। कोलकाता शहर 4 रेलवे स्टेशनों में से एक है। हावड़ा स्टेशन में 23 प्लेटफॉर्म, 26 ट्रैक और 2 टर्मिनल हैं। जिसका लाभ प्रतिदिन एक लाख से अधिक यात्रियों को मिलता है। यही रिकॉर्ड उसे भारत का सबसे बड़ा रेलवे स्टेशन होने का गौरव प्रदान करता है। 

Read Also-भारत का सबसे बड़ा राज्य कौन सा है 

भारत के सबसे बड़े 7 रेलवे स्टेशन

  • हावड़ा स्टेशन – 23 प्लेटफॉर्म
  • सियालदाह, कोलकाता – 20 प्लेटफार्म
  • छत्रपति शिवाजी टर्मिनस, मुंबई – 18 प्लेटफार्म
  • नई दिल्ली जंक्शन – 16 प्लेटफॉर्म
  • चेन्नई सेंट्रल जंक्शन – 15 प्लेटफॉर्म
  • कानपुर सेंट्रल रेलवे स्टेशन – 14 प्लेटफार्म
  • प्रयागराज जंक्शन – 12 प्लेटफार्म

1. हावड़ा जंक्शन रेलवे स्टेशन (Howrah Junction Railway Station) 

हावड़ा रेलवे स्टेशन ही हावड़ा जंक्शन के नाम से भी जाना जाता है। 23 प्लेटफॉर्म, 26 ट्रैक और 2 टर्मिनल वाला यह भारत के सबसे व्यस्त रेलवे स्टेशनों में से एक है। इसका स्टेशन कोड HWN है। इसे सन् 1852 में स्थापित किया गया था। हालांकि यहाँ से पहला सार्वजनिक प्रस्थान 15 अगस्त 1854 को हुआ था। कहा जाता है कि प्रतिदिन करीब 600 यात्री ट्रेनें इस स्टेशन को पार करती हैं और लगभग दस लाख से अधिक यात्री इस जंक्शन का उपयोग करके यहाँ से यात्रा करते हैं। यह भारत के बड़े रेलवे स्टेशन 2022 (Major Railway Stations of India 2022) और सबसे पुराना रेलवे स्टेशन भी है। 

2. सियालदह जंक्शन (Sealdah Railway Station) 

सियालदह भी भारत के बड़े रेलवे स्टेशन 2022 (Major Railway Stations of India 2022) में से एक है। इसका स्टेशन कोड SDAH है। इस स्टेशन के उत्तरी टर्मिनल में 13 प्लेटफार्म हैं और दक्षिण टर्मिनल में 7 प्लेटफार्म हैं। प्रतिदिन लगभग 1.8 मिलियन यात्री इस स्टेशन का उपयोग करते हैं। इस कारण  इसे भारत के सबसे व्यस्त स्टेशनों में से एक कहा जाता है। सियालदह रेलवे स्टेशन का शुभारंभ सन् 1869 में हुआ था। 

3. छत्रपति शिवाजी टर्मिनस (Chhatrapati Shivaji Terminus) 

फ्रेडरिक विलियम स्टीवंस द्वारा इतालवी गोथिक शैली में डिजाइन किया गया छत्रपति शिवाजी टर्मिनस एक ऐतिहासिक रेलवे स्टेशन है। इसका निर्माण 1878 में शुरू हुआ था और यह 1887 में बनकर तैयार हुआ था। उस समय इसका नाम विक्टोरिया टर्मिनस रखा गया था। सन् 2004 में इसे यूनेस्को द्वारा विश्व धरोहर स्थल घोषित किया गया था। बाद में इसका बहुत बार नाम बदला गया। सन् 2017 में इसका नाम बदलकर छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस कर दिया गया। इसका स्टेशन कोड CSTM है। यहाँ पर 18 प्लेटफॉर्म हैं। 

4. नई दिल्ली रेलवे स्टेशन (New Delhi Railway Station) 

सन् 1926 में स्थापित नई दिल्ली रेलवे स्टेशन, नई दिल्ली में पहाड़गंज और अजमेरी गेट के बीच में स्थित है। साल भर व्यस्त रहने वाला यह दिल्ली का मुख्य रेलवे स्टेशन है। इस रेलवे स्टेशन से  प्रतिदिन लगभग 400 ट्रेनें गुजरती हैं और हर दिन करीब 500000 से अधिक यात्री इसका उपयोग करते हैं। इस स्टेशन में 16 प्लेटफॉर्म और 18 ट्रैक हैं। इसका स्टेशन कोड NDLS है। 

5. चेन्नई सेंट्रल रेलवे स्टेशन (Chennai Central Railway Station) 

चेन्नई का मुख्य रेलवे स्टेशन चेन्नई सेंट्रल है। इसका स्टेशन कोड MAS है। पहले इसका नाम मद्रास सेंट्रल  था। यह दक्षिण भारत का सबसे व्यस्त रेलवे स्टेशन है। यहाँ लगभग एक दिन में 5 लाख से अधिक यात्री इस रेलवे स्टेशन का उपयोग करते हैं। इसमें 17 प्लेटफार्म हैं। इसकी लंबाई लगभग 1 किमी है। यह चेन्नई को भारत के प्रमुख शहरों जैसे नई दिल्ली, कोलकाता, मुंबई, बेंगलुरु, हैदराबाद, कोयंबटूर और केरल से जोड़ता है।

6. कानपुर सेंट्रल रेलवे स्टेशन (Kanpur Central Railway Station ) 

उत्तर प्रदेश के कानपुर शहर का मुख्य रेलवे स्टेशन कानपुर सेंट्रल रेलवे स्टेशन है। पहले इसे कानपुर नॉर्थ बैरक स्टेशन के नाम से जाना जाता था। इसे 1930 में खोला गया था और अब इसे कानपुर सेंट्रल के नाम से जाना जाता है। यह पांच केंद्रीय भारतीय रेलवे स्टेशनों में से एक है। इस स्टेशन का स्टेशन कोड CNB है। यहाँ पर 14 प्लेटफॉर्म हैं। हर दिन लगभग 2.3 मिलियन से अधिक यात्री इसका उपयोग करते हैं। इसलिए इसे भारत के बड़े रेलवे स्टेशन 2022 (Major Railway Stations of India 2022) और व्यस्त रेलवे स्टेशनों में गिना जाता है।

7. प्रयागराज जंक्शन (Prayagraj Junction) 

इलाहाबाद जंक्शन का नाम हाल ही में प्रयागराज जंक्शन हो गया है।प्रयागराज (इलाहाबाद) शहर का मुख्य रेलवे स्टेशन है। इसका स्टेशन कोड ALD है। इसमें 12 प्लेटफॉर्म हैं। इस जंक्शन से एक दिन में 400 से अधिक ट्रेनें गुजरती हैं और करीब 2 लाख यात्री एक दिन में इस प्लेटफॉर्म का उपयोग करते हैं। यह उत्तर मध्य रेलवे क्षेत्र के मुख्यालय के रूप में भी कार्य करता है।

Leave a Comment