कंप्यूटर क्या है? इसके विशेषताएं एवं परिभाषा

आज हम जानेंगे कि कंप्यूटर क्या है? इसके कार्य क्या है? इसे कैसे उपयोग में लाते हैं? इसके अलावा कंप्यूटर का नाम, उसकी परिभाषा और कंप्यूटर के सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर पार्ट्स के बारे में जानेंगे। Computer एक मशीन है, जो डेटा की गणना, स्टोर करने और जानकारी का प्रबंधन करने के निर्देशों को संसाधित करता है। कंप्यूटर हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर से बने होते हैं। कंप्यूटर Latin शब्द “computare” से लिया गया है। इसका अर्थ है, कैलकुलेशन करना या गणना करना।

कंप्यूटर क्या है ?- Computer kya Hai

कंप्यूटर एक इलेक्ट्रॉनिक मशीन है जो बहुत सारे इलेक्ट्रॉनिक उपकरण से मिलकर बना है। यह तीव्र गति से कार्य करता है, और कोई गलती भी नहीं करता है। इसे काम करने लायक बनाने के लिए पहले प्रोग्राम किया जाता है यानी कंप्यूटर वही कार्य कर सकता है जो इसके प्रोग्राम में दिया गया हो। इसके अलावा यह कोई कार्य नहीं कर सकता है। जिसके कारण इसकी क्षमता सीमित होती है।

साधारण भाषा में कहें तो कंप्यूटर मनुष्य की तरह ही कार्य करता है। इसके पास भी दिमाग होता है लेकिन मनुष्य गलती कर सकता है। वहीं कंप्यूटर कोई गलती नहीं करता है। इसके अलावा Computer स्मरण शक्ति भी मनुष्य की तुलना में बहुत ज्यादा होती है।

यह भी पढ़ें – कम्प्यूटर का इतिहास 

यह भी पढ़ें-ईमेल क्या है

कंप्यूटर की परिभाषा –

कंप्यूटर प्रोग्राम किया एक इलेक्ट्रॉनिक मशीन है।  यह कुछ तय निर्देशों के आधार पर कार्य करता है। यह अपने कुछ उपकरणों की मदद से कंप्यूटर यूजर आंकड़ा प्राप्त करता हैं जिसे कोशिश कर अपने कुछ उपकरण की सहायता से उस आंकड़ा को सुचना के रुप में प्रदान करता है। यह अंकगणितीय और तार्किक को ऑटोमेटेकली प्राप्त करने में सक्षम होता है। इनके अलावा यह सूचनाओं को संचित, उसे ढूंढ, व्यवस्थित कर सकता है और अन्य मशीनों पर नियंत्रण भी कर सकता है।

कंप्यूटर की परिभाषा से यह साफ होता है, कि कंप्यूटर बहुत सारे उपकरण से मिलकर बना है। जिसमें कुछ उपकरण का कार्य कंप्यूटर यूजर से इनपुट लेना और प्रोसेस करना है। कुछ उपकरण का कार्य कंप्यूटर यूजर को रिजल्ट के रुप में आउटपुट देना होता है। इसमें सूचनाओं को संचित करने के लिए भी कुछ उपकरण होते हैं। कंप्यूटर के सभी उपकरण कंप्यूटर पार्ट्स को नीचे विस्तार से बताया गया है।

कंप्यूटर का फुल फॉर्म क्या है –

कंप्यूटर एक अंग्रेजी शब्द है। इसे हिंदी में संगणक कहा जाता है। यह अभिकलक यंत्र (Programmable Machine) भी है। इसलिए इसका अन्य नाम अभिकलित्र भी हैं। ये तो रहा कंप्यूटर का हिंदी नाम। लेकिन क्या आपको पता है, कि Computer का पूरा नाम क्या होता है। कंप्यूटर का फुल फॉर्म क्या है –

अगर बात कंप्यूटर के फुल फॉर्म की करें। तो कंप्यूटर अंग्रेजी के आठ अक्षरों से मिलकर बना है। सभी अक्षर के अर्थ को देखा जाए। तब कंप्यूटर के उपयोग, विशेषता और कार्य को समझ सकते हैं। चलिए सभी को जानकारी से बताते है-

C- Commonly

O- Operated

M- Machine

P- Particularly

U- Used for

T- Technical

E- Education and

R- Research

कंप्यूटर को कैसे चलाते हैं –

कुछ लोगों के लिए, कंप्यूटर का उपयोग करना समझना मुश्किल हो सकता है। तो हम आपको बताते हैं, कि कंप्यूटर को आप कैसे आसानी से चला सकते हैं।

1- माउस पॉइंटर को उस आइकन या अक्षर पर ले जाएं, जिस पर आप क्लिक करना चाहते हैं।

2- बाईं माउस बटन को दबाकर रखें।

3- पॉइंटर को उस स्थान पर खींचें जहां आप क्लिक करना चाहते हैं।

4-वांछित गंतव्य तक पहुंचने पर बाएं माउस बटन को छोड़ दें।

कंप्यूटर से क्या कर सकते है- 

अक्सर, नए उपयोगकर्ता को नही पता होता कि वह एक Computer में क्या कर सकता है? अगर आप उनमें से है, तो बुरा महसूस करने की कोई जरूरत नही, कोई भी स्किल सीखी जा सकती है। हम आपको उन कामा के बारे में बताते हैं, जिनको कंप्यूटर कर सकता है:

1- कई सॉफ्टवेयर जैसे ― MS Word, Excel और PowerPoint के इस्तेमाल से आप डॉक्यूमेंट बना सकते है, स्प्रीडशीट और प्रेजेंटेशन तैयार कर सकते है।

एंटरटेनमेंट के लिये म्यूजिक सुनना, मूवीज देखना और वीडियो गेम खेलने जैसी कई गतिविधियां की जा सकती है।

2- पर्सनल इन्फॉर्मेशन, फाइलों और विभिन्न प्रकार के डेटा को स्टोर कर सकते है।

3- सोशल मीडिया का इस्तेमाल कर फैमिली और दोस्तों से जुड़ सकते है।

4- इंटरनेट से कनेक्ट कर वेब ब्राउज कर सकते है।

5- पिक्चर और वीडियो एडिट कर सकते है।

6- ऑनलाइन सेवाओं का लाभ उठा सकते है।

7- ईमेल भेज व प्राप्त कर सकते है।

कंप्यूटर का परिचय –

बहुत सारे लोग  कंप्यूटर को नहीं जानते होंगे। इसलिए यहाँ हम आपको कंप्यूटर से परिचय करवाएंगे। 

कंप्यूटर के प्रकार के अनुसार कंप्यूटर का आकार और बनावट भी बदल जाता है। लेकिन यहाँ हमने मुल Computer जिसे Desktop कहते हैं को बताया है। इसमें एक मॉनिटर, सीपीयू, कीबोर्ड और माउस दिखता हैं। ये सभी अलग अलग होते हैं। इसे तार के द्वारा एक दुसरे से जोड़ा जाता है।

 कंप्यूटर दो भाग सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर से मिलकर बना एक इलेक्ट्रॉनिक उपकरण होता है। कंप्यूटर के जिस भाग को देख और छू सकते हैं। उसे हार्डवेयर कहते हैं। कंप्यूटर के जिस भाग को देख या छू नहीं सकते हैं। उसे सॉफ्टवेयर कहते हैं। सॉफ्टवेयर निर्देशों का समूह या प्रोग्राम होते हैं। जो कंप्यूटर के Storage Device में Stored होते हैं। इनका कार्य हार्डवेयर को मैनेज करना और हार्डवेयर को बताना हैं कि करना क्या है। कंप्यूटर के हार्डवेयर भी बहुत सारे उपकरण से मिलकर बना होता है। 

कंप्युटर के हार्डवेयर भाग, कंप्यूटर के प्रकार पर भी निर्भर कर सकते हैं लेकिन कंप्यूटर में एक कीबोर्ड, माउस, मॉनिटर, मदरबोर्ड, सीपीयू, रैम और रॉम आदि उपकरण होता है। कंप्यूटर के सभी भाग को मुख्य रुप से चार भागों में बांट दिया जाता है। जो कि निम्नलिखित है-

1- Input Device

2- Output Device

3- Storage Device

4- Processing Device

चलिए इन सभी को  जानते हैं, कि कौन से भाग में Computer हार्डवेयर का कौन सा उपकरण आता है।

Input-

वह निर्देश अथवा कमांड जो यूजर द्वारा कंप्यूटर को दी जाती है, उसे Input कहते है। ऐसा करने के लिये यूजर इनपुट डिवाइस– कीबोर्ड और माउस इत्यादि का उपयोग करते है। इसके अलावा डेटा को सिस्टम में कई अन्य तरीकों से भी एंटर किया जा सकता है।

Processing-

 इसके अंतर्गत कंप्यूटर यूजर द्वारा फीड किये गए डेटा के आधार पर प्रोसेसिंग करता है। इस कार्य के लिए इसमें Central Processing Unit (CPU) जिम्मेदार होती है। यह यूजर द्वारा इनपुट किये डेटा में हेरफेर करके उसे सार्थक जानकारी में कन्वर्ट करता है। आमतौर पर इस प्रोसेसिंग यूनिट को कंप्यूटर का मस्तिष्क माना जाता है।

Output- 

इनपुट किये गए डेटा की प्रोसेसिंग करने बाद कंप्यूटर उसे आउटपुट डिवाइस को भेज देता है, ताकि वह यूजर को प्राप्त हो सके। मुख्य रूप से आउटपुट को प्रदर्शित करने के लिये डिस्प्ले डिवाइस मॉनिटर का उपयोग किया जाता है। जो भी आप कंप्यूटर में करते है, वह सब आपको इसी डिस्प्ले पर दिखाई देता है।

Storage- 

इस स्टेप में यूजर प्रोसेस किये गए डेटा अथवा जानकारी को भविष्य में फिर से उपयोग करने के लिये कंप्यूटर में स्टोर करता है।

Conclusion –

हम उम्मीद करते हैं, कि हमारे इस आर्टिकल से आपने कंप्यूटर के बारे में सब कुछ विस्तार से जान लिया होगा। कंप्यूटर की परिभाषा, अर्थ, पूरा नाम, उसके इनपुट आउटपुट डिवाइस और उसके उपयोग के बारे में आपने जानकारी ले ली होगी और आप हमारी इस लेख से संतुष्ट होंगे।

Leave a Comment

Your email address will not be published.