Flowers Name in Hindi and English | 99 फूलों के नाम

आज हम आपको Flowers Name in Hindi से संबंधित जानकारी देंगे।

फूल और फूलों की महक सभी को पसंद है बहुत से लोग ऐसे होते हैं जिन्हें प्रकृति से बेहद लगाव होता है और उन्हें अपने पास रंग-बिरंगे फूलों का कलेक्शन अपने पास रखना और फूलों के बगीचे को बनाना तथा उनकी देखभाल करना बहुत अच्छा लगता है।

प्रकृति में कई तरह के फूल पाए जाते हैं कुछ फूल अपने रंगों की वजह से तो कुछ फूल अपनी खुशबू या गुण की वजह से विभिन्न प्रकार के नामों से जाने जाते हैं।

आज की इस लेख में हम आपको फूलों के नाम हिंदी (Flowers Name in Hindi) में बताएंगे जिससे आपको कई तरह के फूलों के नाम और कुछ मुख्य फूलों की से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्यों के बारे में भी जानकारी हासिल होगी।

Read Also- What do you do meaning

Flowers name in Hindi :-

फूल हमेशा जलवायु के अनुसार कई प्रकार की प्रजातियां में पाए जाते हैं। कुछ फूल मौसम एवं ऋतु के अनुसार ही विशेष समय और जलवायु में उगते हैं। कई तरह के फूल सदाबहार होते हैं जो पूरे वर्ष अपनी महक और मौजूदगी से लोगों को प्रकृति का एहसास दिलाते हैं।

फूल लोगों को अपनी भावनाओं का इजहार करने में भी मदद करते हैं जैसे मनुष्य आपस में एक दूसरे से माफी मांगने, प्यार का इजहार करने या किसी बीमार व्यक्ति के मिलने पर उसे get well soon के तौर पर फूल भेंट करके आदि भाव प्रकट करते हैं।

फूलों को महत्व केवल मनुष्य तक ही सीमित नहीं है बल्कि यह भगवान एवं ईश्वर की भक्ति में भगवान को चढ़ाए जाते हैं तथा बाजार में विशेष रूप से कई प्रकार के फूलों की माला बनती है जिन्हें रोज मंदिरों में भगवान की मूर्ति एवं तस्वीरों पर चढ़ाया जाता है।

आइए आप फूलों के नाम हिंदी में (Flowers Name in Hindi) जानते हैं, जो इस प्रकार है-:

ENGLISHHINDI
Roseगुलाब
Lotusकमल का फूल
Marigold गेंदे का फूल
Aparajitaअपराजिता
Crossandraअबोली
Forest Ghost Flowerआंकुरी बांकुरी
Golden showerअमलतास
Jasmine चमेली का फूल
Gully Ashfariगुले अशफरी
Cestrum nocturnumरात की रानी
Tulipकुंद पुष्प
Sunflowerसूरजमुखी का फूल
Jasminum Sambacमोगरा
Crape Jasmineचांदनी फुल
Hibiscusगुड़हल का फूल
Peacock Flowerगुलेतुरा फूल
Daisyगुलबहार का फूल
Scarlet Milkweedकाकतुण्डी
Black Turmeric Flower काली हल्दी का फूल
Magnoliaचंपा
Cobra Saffronनाग चंपा
Yellow Oleanderपीला कनेर
Lavenderलैवेंडर का फूल
Chrysanthemum Flowerचंद्रमलिका
Periwinkleसदाबहार
Puncture Vineगोखरू
Aloe Vera Flowerघृतकुमारी
Blue Water Lilyनील कमल
Chamomileबबुनी का फूल
Shameplantछुई मुई
Night Flowering Jasmineहरसिंगार
Delonix Regiaगुलमोहर
Balsamगुल मेहंदी
Hiptageमाधुरी पुष्प
Flaxपटसन
Narcissusनरगिस
Murrayaकामिनी
Sweet Violetबनफशा का फूल
Pandanusकेवड़ा
Poppy Flowerखसखस
Grand Crinum Lilyनागदामिनी
Creeper Flowersमधुमालती
Prickly Pearनागफनी
Hollyhockगुल खेड़ा
Dahliaडेहलिया
Stramoniumसफेद धतुरा
Lady’s slipper orchidआर्किड फूल
Pansyबनफूल
Foxtail Orchidद्रौपदी माला
Primroseबसंती गुलाब
Butea Monospermaपलाश के फूल
Bluestar Flowerअसोनिया
Orange Tiger Lilyटाइगर लिली
Golden Frangipaniसोन चंपा
Ashok Flowerसीता अशोक
Monsoon lilyसफेद मूसली
Siroi Lilyसिरोय कुमुदिनी
Crown Flowerसफेद आक
Canna Lilyसर्वज्य
Common Crape Myrtleसावनी
Showy Rattlepodसन्नी
Cockscomb Flowerलाल मुर्गा
Mexican Prickly Poppyसत्यानाशी
Common Lantanaराईमुनिया
Rohiraरोहेड़ा
Mountain Laurelमाउंटेन लॉरेल
Ixora Coccinea Flowerरुगमणि
Mexican Tuberoseरजनीगंधा
Burmann’s Sundewमुखजली
Blue Fountain Bushभारंगी
Spanish Cherryमौलश्री का पुष्
Burr Mallowबिचता
Glory Lilyबचनाग
Brahma Kamalब्रह्माकमल
Bougainvilleaबूगेनबेल
Tanner’s Cassiaतरवड़ के फूल
Lilacबकाइन
Queen Crape Myrtleजरूल
Blue Morning Gloryप्रातः श्री
Indigo Flowerनील फूल
Star Gloryकमलता फूल
Millingtonia Hortensisनींम चमेली
Indian Tulipपारस पीप
Purple Passion Flowerझुमका लता
Zombi Peaजंगली मूंग

ऊपर हमने सभी प्रकार के फूलों के नाम हिंदी में बता दिए हैं।

आइए अब कुछ मुख्य फूलों से संबंधित तथ्यों के बारे में जाने-:

गुलाब का फूल

गुलाब का फूल वैसे तो अपने रंग और खुशबू से सब का ही मन मोह लेता है, परंतु क्या आप जानते हैं कि गुलाब के फूल का प्रयोग करने से त्वचा को भी कई तरह के फायदे मिलते हैं? अगर नहीं तो निम्नलिखित बातों को पढ़कर आप समझ जाएंगे कि कैसे आप अच्छी और निखरी त्वचा के लिए गुलाब के फूल का इस्तेमाल कर सकते हैं-:

  • गुलाब फूल या गुलाब जल को हल्दी बेसन एवं दही के साथ मिलाकर फेस पैक के रूप में लगाने से त्वचा में निखार आता है और रूखापन खत्म हो जाता है।
  • यदि आपकी आंखों में दर्द हो रहा हो तो आप एक दो फूल गुलाब जल की आंखों में डाल सकते हैं। इससे आपकी आंखों में हुई जलन और आंखों की सूजन में आराम मिलता है।
  • गुलाब जल को रात में चेहरे पर लगाकर सोने से त्वचा की डेड सेल्स दोबारा बनती है और चेहरे का बेजानपन  खत्म हो जाता है।

गेंदें का फूल –

जब भी गेंदे के फूल की बात आती है तो यह शादी समारोह या पूजा में गेंदे के फूल की माला के रूप में प्रयोग किया जाता है। गेंदे के फूल को अच्छाई और धार्मिक आस्था के रूप में काफी महत्व दिया जाता है। परंतु पूजा और शादी समारोह के अलावा क्या आप जानते हैं कि गेंदे के फूल से कई बीमारियों को भी ठीक किया जा सकता है? अगर नहीं, तो निम्नलिखित बातों की सहायता से आप गेंदे के फूल से ठीक होने वाली बीमारियों के बारे में जान सकें जो कि इस प्रकार है-:

  • गेंदे के फूल में पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट शरीर में मौजूद जहरीले एवं विषैले तत्वों को बाहर निकालते हैं। यदि जिस किसी को भी अल्सर की दिक्कत होती है तो उसे गेंदे की फूल की चाय पीने से अल्सर की समस्या में राहत मिलती है।
  • दिल्ली के फूल में पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट घाव भरने में भी सहायक होते हैं।
  • गेंदे के फूल को कैंसर पेशेंट के रोगों में राहत के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है।
  • इसके अलावा स्वच्छ एवं सुंदर त्वचा के लिए भी गेंदे के फूल को फेस पैक के रूप में इस्तेमाल करने से त्वचा संबंधी समस्याएं खत्म हो जाती है और रूखापन एवं बेजानपन भी चला जाता है।
  • गेंदे के फूल का प्रयोग आंखों में जलन और सूजन को खत्म करने के लिए भी किया जाता है।

चमेली का फूल

चमेली का फूल महक और रंग रूप में बेहद आकर्षक है और चमेली के फूल से मन शांत भी हो जाता हैं। इसके सफेद रंग से शांति का भाव महसूस होता है। परंतु क्या आप चमेली के फूल के फायदे के बारे में जानते हैं? अगर नहीं, तो निम्नलिखित बातों की सहायता से आप चमेली के फूल के फायदे के बारे में जान जाएंगे-:

  • चमेली का तेल यानी जैसमिन ऑयल सोने से पहले बालों में लगाने से यह मस्तिष्क के नर्व सिस्टम को एक्टिव कर देता है जिससे दिमाग शांत हो जाता है। दिमाग शांत होने से अच्छी नींद आती है और डिप्रेशन की समस्या भी खत्म हो जाती है।
  • जैस्मिन और नारियल का तेल मिलाकर बॉडी पर मसाज करने से यह शरीर की नसों में जान डाल देता है और खून का संचार बढ़ता है जिससे शरीर सुचारू रूप से काम करने लगता है।
  • गर्मी के मौसम में काफी पसीना शरीर पर आ जाता है जिससे दुर्गंध की समस्या भी बढ़ जाती है, इस समस्या के खात्मे के लिए आप चमेली के फूल को पानी में मिलाकर एक स्प्रे बना सकते हैं जिससे आप उसके शरीर पर छिड़ककर गर्मी के मौसम में पसीने से होने वाली दुर्गंध की समस्या से निजात पा सकते हैं।

निष्कर्ष :-

इस आर्टिकल में हमने आपको फूलों के नाम (Flowers name in Hindi) बताएं।

ऐसे ही जानकारी से भरपूर लेख पढ़ने के लिए हमारे वेब पोर्टल को फॉलो करें।

Leave a Comment

Your email address will not be published.