SI full form In Hindi

SI full form

SI Full Form “Sub-Inspector” होता है जिसको हिंदी में फुल फॉर्म “उपनिरीक्षक” के नाम से भी जाना जाता है। यह पुलिस विभाग के अनुसार कार्य करता हैं एवं प्रशासनिक दायित्व को पूर्ण करने के लिए तत्पर रहता है। एक सब-इंस्पेक्टर एक सहायक पुलिस उपनिरीक्षक (एएसआई) से ऊपर और एक इंस्पेक्टर से नीचे काम करता है। लेकिन आमतौर पर एक SI अधिकारी पहला जांच अधिकारी होता है जो कुछ पुलिस कर्मियों की कमान में होता है।

पुलिस सेवा में प्रत्येक पद के लिए एक पद चिन्ह होता है जिसके द्वारा हम पुलिस अधिकारी के पद की पहचान करते हैं। एक Si अधिकारी के कंधे की पट्टियों पर 2 स्टार तथा बाहरी छोर पर एक लाल और एक नीले रंग की धारदार पट्टी भी होती है जिसे देखकर व्यक्ति द्वारा समझ लिया जाता है कि यह थाने का सूबेदार या उपनिरीक्षक है।

SI full form-SI बनने की योग्यता

शैक्षणिक योग्यता :- इसके लिए आपको किसी भी महाविद्यालय से पास की गई ग्रेजुएशन का डिग्री होनी चाहिए। अब आप इसकी परीक्षा के लिए एलिजिबल हैं।

आयु सीमा:- सामान्य वर्ग के लिए आयु सीमा 20 वर्ष से कम होनी चाहिए तथा 25 वर्ष के अधिक नहीं होनी चाहिए। अधिकतम आयु सीमा में ST और SC वर्ग के उम्मीदवारों के लिए 5 वर्षों की छूट है जबकि OBC वर्ग के उम्मीदवारों

को 3 वर्षों की छूट मिलती है।

शारीरिक योग्यता:– आपकी छाती का साइज बिना फुलाए हुए 83 सेंटीमीटर कम से कम होना चाहिए तथा फूलने के बाद इसका साइज 87 सेंटीमीटर कम से कम होना चाहिए।

ऊँचाई:– पुरुष उम्मीदवारों के लिए कद की ऊंचाई 168

सेंटीमीटर कम से कम होनी चाहिए। जबकि महिला

उम्मीदवार के लिए 158 कम से कम होनी चाहिए।

एसटी व एससी कैंडिडेट को 5 सेंटीमीटर तक छूट होती है।

SI की सैलेरी

SI की सैलरी अलग अलग राज्यों में अलग निर्धारित की गई है मोटे तौर पर माने तो भारत में सब इंस्पेक्टर की औसत सैलरी 35000 से 55000 के बीच होती है जो धीरे धीरे उनकी रेंक ग्रैड के हिसाब से बढ़ती जाती हैं। यह बहुत ही उच्च लेवल की पुलिस सर्विस होती है। जिसमे प्रमोशन जल्दी से मिलता है तथा एक सूबेदार के पास थानेदार के बराबर पावर होती है। जिसे वह थानेदार के न होने की स्थिति में उपयोग कर सकता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *