विश्व पर्यावरण दिवस कब मनाया जाता है-World Environment Day 2022

हमारे चारों ओर फैले हुए वातावरण को हम पर्यावरण कहते हैं। इस पर्यावरण की रक्षा हेतु पूरे विश्व में पर्यावरण सुरक्षा दिवस के रूप में विश्व पर्यावरण दिवस (World Environment Day) मनाया जाता है। अपने पर्यावरण को सुधारने हेतु यह दिवस मनाना आवश्यक है, ताकि पूरा विश्व आने वाले पर्यावरण के प्रदूषक प्रकोप से बच सके एवं अपने पर्यावरण को सुरक्षित रख सके।

एक शुद्ध पर्यावरण हमारे आसपास के क्षेत्र को जीवन-यापन करने योग्य रखता है लेकिन आजकल हमारे आसपास मोटर वाहनों, फैक्ट्रियों के कारण बहुत अधिक प्रदूषण बढ़ गया है जो कि आने वाले समय मे गंभीर रूप धारण कर सकता है। अतः अपनी सुरक्षा और अपने पर्यावरण को सुरक्षित रखने के लिए संयुक्त राष्ट्र द्वारा यह अहम कदम उठाया गया था। चलिए जानते हैं विश्व पर्यावरण दिवस कब मनाया जाता है और इसकी शुरुआत कब हुई- 

विश्व पर्यावरण दिवस कब मनाया जाता है औऱ क्यो – 

लोगो मे पर्यावरण के प्रति जागरूकता लाने और अपने आसपास के वातावरण को प्रदूषित होने से बचाने के लिए विश्व पर्यावरण दिवस की शुरुआत की गई। विश्व पर्यावरण दिवस की शुरुआत करने की घोषणा संयुक्त राष्ट्र द्वारा 1972 की गई थी। लेकिन में पूरे विश्व मे पर्यावरण दिवस 5 जून 1974 को मनाया गया था। इसके बाद से प्रत्येक वर्ष अंतरराष्ट्रीय पर्यावरण संरक्षण दिवस 05 जून को मनाया जाने लगा।

विश्व पर्यावरण दिवस मनाने का कारण यह है कि विश्वभर में दिन-प्रतिदिन बढ़ रहे विभिन्न पर्यावरण से जुड़ी सभी समस्याओं से निपटने के लिए सभी संयुक्त देश चर्चा करते हैं। जिसके बाद सभी देश मिलकर चर्चा करते हैं एवं उस समस्या का समाधान करने की कोशिश करते हैं।

आपको यह जानकारी तो गयी है कि विश्व पर्यावरण दिवस 05 जून को मनाया जाता है। अब हम जानेंगे कि विश्व मे पर्यावरण दिवस पहली बार किस देश मे मनाया गया था।  इसके साथ ही हम यह भी जानेंगे कि हमारे देश भारत में पर्यावरण दिवस की शुरुआत कैसे हुई। साथ ही हम यह चर्चा करेंगे पर्यावरण दिवस कैसे मनाते है चलिए जानते हैं –

Read Also-भारत के त्योहारों की लिस्ट

पर्यावरण दिवस कैसे मनाते है – 

दुनिया भर में लोग विश्व पर्यावरण दिवस अलग-अलग तरीकों से बनाते हैं कई लोग पर्यावरण दिवस के दिन पेड़- पौधे लगाते हैं गलियां साफ करते हैं नदियों समुंदरों में जीव जंतुओं के शिकार को रोकना इत्यादि कार्य करते हैं। इसके अलावा लोगो को पर्यावरण संरक्षण के प्रति जागरूक करने के लिए आंदोलन – रैलीआदि करते हैं। जैसे की सयुंक्त राष्ट्र द्वारा पर्यावरण दिवस सर्वप्रथम 05 जून 1974 को मनाया गया था। इस पर्यावरण संरक्षण महासंघ में कई देश शामिल हुए थे एवं संयुक्त राष्ट्र संघ ने पर्यावरण दिवस पहली बार ‘स्टाकहोम’  (स्वीडन) में मनाया। 

यह विश्व भर के देशों का पहला पर्यावरण दिवस था जिसे अंततः अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रत्येक वर्ष मनाने का प्रावधान कर दिया गया। इस आयोजन के बाद यह निर्णय लिया गया कि हर साल इसके केंद्र को बदला जाए। इसके बाद अंतर्राष्ट्रीय पर्यावरण संरक्षण दिवस आयोजन केंद्र अलग अलग देशो में किया जाने लगा। इस आयोजन में विश्व के कुल 143 देश शामिल होते हैं। 

पर्यावरण संरक्षण क्यो आवश्यक है – 

चूंकि हम सभी जानते हैं कि पर्यावरण कई कारणों से प्रदूषित होता है जिनमें सबसे अधिक फैक्ट्रियों से निकलने वाले रसायनों और कई प्रकार के मानवीय कारणों से भी होता है। पर्यावरण कई प्रकार से दूषित होता है, वायु प्रदूषण, जल प्रदूषण, मृदा प्रदूषण और अन्य भौगोलिक प्रदूषण इसमें शामिल किए जा सकते हैं। इन प्रदूषणों पर रोकधाम, सुरक्षित और प्राकृतिक वातारण जीवन- यापन करने के लिए महत्वपूर्ण है। किंतु इन कारणों से हमारे आसपास के प्राकृतिक वातारण को बहुत क्षति होती है। 

Leave a Comment

Your email address will not be published.