AM और PM Full Form In Hindi-AM & PM क्या है?

AM और PM Full Form – हम सभी अपना काम पूरे तन और मन से समय के साथ पूरा करते हैं और कई बार हमें अपने काम करने में देर हो जाती है और इस वजह से हम घड़ी का उपयोग करते हैं। आपने गौर किया होगा कि जब भी हम घड़ी देखने का काम करते हैं, तो उसमें हमेशा a.m. और  p.m. का इस्तेमाल करते हैं लेकिन कई लोगों को इसके फुल फॉर्म के बारे में जानकारी नहीं होती है। ऐसे में हम आपकी मदद करेंगे।

AM और PM Full Form:-

हम मुख्य रूप से इसका इस्तेमाल रात्रि के 12:00 बजे से लेकर दिन के 12:00 बजे तक करते हैं, जहां AM का फुल फॉर्म Ante meridiem होता है जिसे हिंदी में “पूर्वाहन” भी कहा जाता है।

PM का फुल फॉर्म :-

हम  मुख्य रूप से का उपयोग दोपहर के 12:00 बजे से लेकर रात्रि के 12:00 बजे तक करते हैं। जिस का फुल फॉर्म “post meridiem” होता है और जिसे हिंदी में “अपराह्न” कहा जाता है।

ये भी पढ़े- WWW Full Form in Hindi

समय का इतिहास :-

आज भी समय देखने के लिए 12 घंटे का फॉर्मेट का इस्तेमाल किया जाता है लेकिन प्राचीन समय की बात की जाए तो उस समय भी 12 घंटे की घड़ी प्रणाली को भी इस्तेमाल करते हुए समय देखने की शुरुआत की गई थी। जिसकी सबसे पहले शुरुआत मेसोपोटामिया में मिस्र के युग में किया गया था। जहां पर समय देखने के लिए एक अलग ही प्रकार की घड़ी का इस्तेमाल हुआ और फिर 1500 ईसा पूर्व में इसे अलग-अलग 12 घंटों में विभाजित कर दिया गया था फिर इसके बाद से ही इस फॉर्मेट को अपनाते हुए am और pm के बारे में जानकारी दी गई थी।

AM और PM का इस्तेमाल :-

हम सभी समय देखते समय am और pm का इस्तेमाल करते हैं जिसका और भी तरीके से इस्तेमाल किया जा सकता है।

  1. मुख्य रूप से  इन दोनों का इस्तेमाल समय के अनुसार 12 घंटे के फॉर्मेट के रूप में किया जाता है जिसके अनुसार भी समय में परिवर्तन होता है।
  2. ऐसे में रात्रि और सुबह के लिए समय देखते हुए अलग तरीके से इनका इस्तेमाल होता है जहां सुबह के 9:00 बजे 9:00 a.m और रात्रि के 9:00 बजे को 9:00 pm कहा जाता है।

AM और PM है घड़ी मानक प्रणाली:-

आज के समय में भी कई सारे ऐसे देश हैं, जो इस तरह से मानक प्रणाली का इस्तेमाल करते हैं और साथ ही साथ लिखते समय भी इस तरह से उपयोग करते हुए समय लिखा जाता है। हमेशा Am और Pm को समय के हिसाब से मानक प्रणाली का दर्जा दिया गया है जिसे हम आसानी के साथ उपयोग करते आए हैं।

AM और PM समय प्रणाली लागू करने वाले देश:-

दुनिया भर में ऐसे बहुत सारे देश हैं जहां पर इस हिसाब से समय प्रणाली लागू की जाती है। मुख्य रूप से उन्हीं देशों में इस प्रणाली की शुरुआत मानी गई है जहां पर ब्रिटिश साम्राज्य का दबदबा बना हुआ था। ऐसे में मुख्य रूप से भारत-पाकिस्तान, यूनाइटेड स्टेट,यूनाइटेड किंग्डम, मेक्सिको, मलेशिया, फिलीपींस और मिस्र जैसे देशों में इस तरीके के मानक प्रणाली एएम या पीएम को अपनाया गया है, जहां इस मानक प्रणाली को ध्यान में रखते हुए भी अपने कार्यों को पूर्ण किया जाता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.