Animals Name in Hindi and English | 50 जानवरों के नाम

आज का हमारा आर्टिकल Animals Name in Hindi से संबंधित है।

हम रोजाना अपने आसपास कई जानवर देखते हैं कुछ जानवरों के नाम हमें पता होते हैं और कुछ के नाम हमें नहीं पता होते हैं।

कई जानवर मानवों के लिए आजीविका का साधन होते हैं तो कुछ जानवर ऐसे होते हैं जिन्हें इंसान खाने के लिए इस्तेमाल में लाता है।

कुछ जानवरों का धार्मिक महत्व और स्थान धर्म ग्रंथों में भी शामिल किया गया है।

आज के इस लेख में हम कई तरह के जानवरों के नाम हिंदी में (animals name in Hindi) जानेंगे और कुछ मुख्य जानवर से संबंधित तथ्यों के बारे में भी जानकारी हासिल करेंगे।

Read Also- Flowers Name in Hindi and English

Animals name in Hindi -:जानवरों के नाम हिंदी और इंग्लिश में

स्कूल में छोटे बच्चों को जानवरों के चित्र दिखाकर उनके नाम और रूप आकृति को समझाया जाता है इससे उन्हें यह फायदा होता है कि बच्चा छोटी उम्र से ही जानवरों के रूप रंग को देखकर उसे पहचान जाता है। इसके अलावा विज्ञान विषय में जानवरों की देखरेख, खानपान और जानवरों से मिलने वाले लाभ और जानवरों के कार्यों के बारे में आदि संबंधित स्कूली स्तर पर दी जाती है।

कुछ जानवर विशेष प्रकार की जलवायु और विशेष स्थानों पर पाए जाते हैं। आइए सभी जानवरों के नाम (animals name in Hindi) जाने-:

ENGLISHHINDI
DOGकुत्ता
CATबिल्ली
RATचूहा
LIONशेर
PUPPYकुत्ते का बच्चा
MONKEYबंदर
TIGERबाघ
GORILLAगोरिला
SNAKEसांप
CAMELऊंट
COWगाय
BUFFALOभैंस
OXबैल
GOATबकरी
FOXलोमड़ी
ELEPHANTहाथी
LIZARDछिपकली
SQUIRRELगिलहरी
FROGमेंढक
SHEEPभेड़
DEERहिरण
PIGसूअर
COCKमुर्गा
SHARK FISHशार्क मछली
CRABकेकड़ा
LEOPARDतेंदुआ
CHAMAELEONगिरगिट
BEARभालू
HORSEघोड़ा
MOLE RATछछूंदर
GIRAFFEजिराफ
CROCODILEमगरमच्छ
KANGAROOकंगारू
CHIMPANZEEचिंपांजी
REINDEERबारहसिंघा
TORTOISEकछुआ
WHALE FISHव्हेल मछली
JELLY FISHजेलीफिश
PRAWN FISHझींगा मछली
MONGOOSEनेवला
ALLIGATORघड़ियाल
SNAILघोंघा
JACKALसियार
DONKEYगधा
RHINOCEROSगैंडा
MULEखच्चर
YAKयाक
BABOONलंगूर
LEOPARDचीता
BEDBUGSखटमल
CORALप्रवाल
PELICANहवासील
HIPPOPOTAMUSदरियाई घोड़ा
SEA HERONसमुद्री बगुला
HORSEMEATअश्वमीन
SQUIDविद्रूप
PARROTतोता
BADGERबिज्जू
BEERभालू
DEERहिरन
OTTERऊदबिलाव
MAREघोड़ी
DUCKबत्तख
PIGEONकबूतर
PEACOCKमोर
CROWकावा
SEAGULLगंगा चिली
WALRUSदरियाई घोडा
CRABकेकड़ा

ऊपर हमने आपको जानवरों के नाम बताए हैं। आईए अब जानवरों से जुड़ी कुछ मुख्य बातों के बारे में जानते हैं।

गाय के दूध पीने के फायदे :-

यह बात तो हम सबको ही हमारे बुजुर्गों से शुरू से सुनने को मिली है कि गाय का दूध पीने से हमें कितने सारे स्वास्थ्य लाभ होते हैं। हमें बचपन से ही गाय का दूध पीने के लिए कहा जाता है क्योंकि इसमें इतने सारे फायदे होते हैं जो हमें कई सारे लोगों से दूर रख सकते हैं। गाय के दूध में कई तरह के विटामिन और खनिज लवण पाए जाते हैं। हिंदू धर्म में तो गाय को पूजा भी जाता है और हिंदू ग्रंथों में गाय का एक महत्वपूर्ण स्थान शामिल है।

गाय के दूध से ही कुछ परिवारों की आजीविका चलती है क्योंकि गाय की दूध को बेचकर वह अपना जीवन गुजारते हैं। इसीलिए गाय का दूध मानवों के लिए कई रूपों में काम आता है। वर्तमान समय में केवल गांव में ही नहीं बल्कि शहरों में भी गायों को घर में पाला जाता है और उनके अच्छी प्रकार देखभाल की जाती है तथा गाय से प्राप्त होने वाले दूध का सेवन ही सभी परिवार के सदस्य करते हैं। 

आइए गाय के दूध से मिलने वाले फायदों के बारे में विस्तार में जाने-:

  • गाय के दूध में विटामिन b12 पाया जाता है और मनुष्य को रोजाना 2.4 मिलीग्राम b12 विटामिन की जरूरत होती है और गाय के दूध में 1.4 मिलीग्राम विटामिन b12 पाया जाता है यानी कि गाय का दूध पीने से हमें रोजाना b12 विटामिन की आधी खुराक मिल जाती है।
  • गाय के दूध में केसीन नामक तत्व पाया जाता है जो शरीर में कैल्शियम और फास्फोरस की मात्रा को बनाए रखता है। इससे शरीर में मौजूद भोजन आसानी से पच जाता है और पाचन संबंधी समस्या जैसे कब्ज और एसिडिटी खत्म हो जाती है।
  • गाय के दूध में अधिक मात्रा में विटामिन और खनिज डालकर तैयार दूध को फोर्टीफाइड कहते हैं और ऐसे दूध में विटामिन डी की मात्रा उच्च रूप से पाई जाती है जिससे कैंसर संबंधी रोगों से बचाव में राहत मिलती है।
  • गाय का दूध आंखों की रोशनी के लिए बहुत अच्छा होता है क्योंकि गाय के दूध में आंखों के लिए जरूरी विटामिन ए पाया जाता है इसीलिए स्वस्थ आंखों के लिए रोजाना गाय का दूध सामान्य मात्रा में पीना चाहिए।
  • गाय का दूध हृदय के लिए भी बेहतरीन होता है और गाय का दूध पीने से इस्केमिक स्ट्रोक यानी दिल में खून के थक्का जमने की समस्या भी कम हो जाती है। इसके अलावा गाय के दूध में फैटी एसिड भी पाए जाते हैं जो कई तरह के ह्रदय रोगों से बचाव में सहायता करते हैं। फैटी एसिड से प्लाज्मा के उच्च स्तर को कम किया जा सकता है इसीलिए हृदय रोगों से ग्रसित व्यक्ति को सामान्य रूप से गाय के दूध का सेवन करना चाहिए।
  • स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि गाय की दूध को कच्चा पीने से रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होती है और यदि बच्चे गाय का दूध पिए तो उनके विकास में सहायता मिलती है उनकी हड्डियां और मांसपेशियां मजबूत होती है इससे उनका शारीरिक विकास भली प्रकार हो पाता है। इसके अलावा दूध को उबालकर पीने से भी उसने मौजूद विटामिन और खनिज तत्वों की क्षमता बढ़ जाती है और जिससे रोग प्रतिरोधक क्षमता भी मजबूत हो जाती है।
  • यह तो सभी जानते हैं कि दूध कैल्शियम का एक महत्वपूर्ण स्त्रोत है और गाय का देसी दूध में शुद्ध रूप से कैल्शियम और मैग्नीशियम की मात्रा पाई जाती है जिससे हड्डियों से संबंधित होने वाले रोग से राहत मिलती है और हड्डियां और मांसपेशियां मजबूत होती है।
  • गाय के दूध में सामान्य मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है और स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि जो लोग वजन कम करना चाहते हैं उन्हें प्रोटीन की मात्रा सामान्य रूप से लेनी चाहिए इसीलिए गाय के दूध के सेवन करने से वजन नियंत्रण में रहता है। ‌
  • दूध में ओमेगा 3 फैटी एसिड पाया जाता है और ओमेगा 3 फैटी एसिड मस्तिष्क के सही विकास के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता है यदि बच्चों को गाय का दूध पिलाया जाए तो उनमें मस्तिष्क का अच्छा विकास होता है और मस्तिष्क से संबंधित विकार जैसे सिर दर्द, याददाश्त का कमजोर होना और गुम चोट लगना आदि संबंधित समस्या से बचा जा सकता है।

निष्कर्ष :-

इस आर्टिकल में हमने आपको Animals Name in Hindi और कुछ मुख्य जानवरों से संबंधित अन्य संबंधित जानकारी दी है।

ऐसे ही जानकारी से भरपूर लेख पढ़ने के लिए हमारे वेब पोर्टल को फॉलो करें।

Leave a Comment

Your email address will not be published.