Fruits Name in Hindi and English | 35 फलों के नाम हिंदी में

आज हम आपको Fruits name in Hindi बताएंगे।

सभी चिकित्सकों या बड़े बुजुर्गों का कहना है कि फल खाने से सेहत बनती है। फल एक पोषक और खनिज तत्वों से भरपूर पोषण का एक संपूर्ण साधन है। फलों की सबसे खास बात यह है कि आप इसी धोकर कच्चा ही खा सकते हैं और कई फल ऐसे होते हैं जिन्हें कच्चा खाने से ही स्वास्थ्य लाभ अधिक मात्रा में प्राप्त होता है।

परंतु छोटे बच्चे फलों के पोषण संबंधी जानकारी तो क्या फलों के नाम तक नहीं जानते हैं इसीलिए आज हम फलों के नाम (fruits name in Hindi) बताने जा रहे हैं और कुछ फलों को खाने से स्वास्थ्य संबंधित क्या लाभ मिलते हैं, इस बारे में भी चर्चा करेंगे।

Read Also- Flowers Name in Hindi

Fruits Name in Hindi

छोटे बच्चों से लेकर सभी को सुबह के नाश्ते में कुछ फलों का सेवन जरूर करना चाहिए इससे शरीर में हाइड्रेशन की मात्रा सामान्य रूप से बनी रहती है और ऊर्जा प्राप्त होती है। कई पोषक तत्व जैसे आयरन, कैल्शियम, पोटेशियम, विटामिन सी, विटामिन डी, ए, बी और कार्बोहाइड्रेट आदि प्राप्त होते हैं।

आइए फलों के नाम हिंदी में (Fruits name in Hindi) जानते हैं-:

ENGLISHHINDI
APPLEसेब
PAPAYAपपीता
BANANAकेला
MANGOआम
PINEAPPLEअनानास
GRAPESअंगूर
GAUVAअमरूद
ORANGEसंतरा
COCONUTनारियल
WATERMELONतरबूज
MUSK MELONखरबूज
WOOD APPPLEबेल
AVOCADOमक्खनफल
BARBERRYदारूहल्दी
BLACK CURRENTफालशेब
BLACK CURRENTजामुन
BLUEBERRYनीलबदरी
BREADFRUITविलायती फल
CASHEWSकाजू
CHERRYचेरी
POMEGRANATEअनार्
RAISINSकिशमिश
SAPOTAचीकू
SWEET ORANGEमौसंबी
TAMARINDइमली
WATER CHESTNUTसिंघाड़ा
ACAI BERRYकाला जामुन
STRAWBERRYस्ट्रॉबेरी
SALAKसलक
QUINCEश्रीफल
PASSIONकृष्णा फल
DRAGON FRUITड्रेगन फल
CILANTROतेंदू फल
RASBHARIरसभरी
RED BANANAलाल केला
CILANTROसीताफल
KIWIकीवी
SUGARCANEगन्ना
ALMONDबादाम
DATW FRUITखजूर
FIGअंजीर
STAR FRUITकरमल
PEARनाशपाती
PLUMआलू बुखारा

ऊपर हमने सभी तरह के फलों के नाम बताए हैं। आइए कुछ मुख्य फलों की बात करते हैं जिनका दैनिक रूप से सेवन करने पर स्वास्थ्य से संबंधित लाभ अधिक है।

सेब (Apple)

अक्सर लोग यह जानने की कोशिश करते हैं कि सेब कब खाना चाहिए?

स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि सेब को सुबह के वक्त खाना चाहिए और यही सेब खाने का सही समय है। सेब में फाइबर और पेक्टिन नामक पोषक तत्व पाया जाता है और इसे सुबह नाश्ते में खाने से दिन भर शरीर में ऊर्जा का संचार रहता है और असमय भूख लगने की समस्या भी नहीं होती है।

सेब का रात में सेवन करने से कई स्वास्थ्य विशेषज्ञ मना करते हैं क्योंकि सेब में पाए जाने वाले फाइबर और पेक्टिन पोषक तत्व रात में पाचन के लिए ठीक नहीं होते हैं जिससे गैस या पेट में दर्द संबंधित समस्या उत्पन्न हो सकती है।

इसके अलावा यदि नियमित रूप से सेब का सेवन किया जाए तो कोलेस्ट्रोल भी नियंत्रण में रहता है। सेब खाने से पेट साफ हो जाता है जिससे कि कब्ज संबंधी समस्या भी खत्म हो जाती है।

विटामिन सी वाले फलों के नाम :-

स्वस्थ शरीर के लिए सभी प्रकार के विटामिन को ग्रहण करना काफी आवश्यक होता है। इसी तरह विटामिन सी के शरीर में संपूर्ण आपूर्ति के लिए आपको पपीता, आंवला, नींबू, अनानास, चकोतरा, संतरा, स्ट्रॉबेरी (Vitamin C Fruits) आदि का सेवन जरूर करना चाहिए। इन सभी फलों में विटामिन सी सामान्य रूप से पाया जाता है और इन फलों को सही समय और सही मात्रा में ग्रहण करने से आपके शरीर में विटामिन सी की मात्रा पूरी रहेगी।

कई लोग मन में यह सवाल रखते हैं कि सबसे ज्यादा विटामिन सी कौन से फल में पाया जाता है?

सबसे ज्यादा विटामिन सी आंवला में पाया जाता है। इसके अलावा विटामिन सी संतरा और नींबू में अधिक मात्रा में पाया जाता है। आप सुबह के नाश्ते में संतरे का सेवन विटामिन सी की पूर्ति के रूप में कर सकते हैं।

विटामिन सी के सेवन से इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट शरीर में मौजूद जहरीले पदार्थों को डिटॉक्स करके बार करते हैं। विटामिन सी के सेवन से इंफेक्शन का खतरा कम हो जाता है और इम्यूनिटी भी मजबूत हो जाती है।

विटामिन A वाले फलों के नाम :-

आइए अब विटामिन ए वाले फलों के नाम जानते हैं-:

क्या आपको पता है कि विटामिन A सबसे ज्यादा किस फल पाया जाता है?

केला, आम और पपीता में विटामिन ए सबसे ज्यादा पाया जाता है। केला हर सीजन में मिलने वाला फल है इसीलिए आप इसे अपने नाश्ते के समय इसका शेक बनाकर या खाली इसका सेवन कर सकते है।

आम के सीजन में आप 50 ग्राम आम का सेवन करेंगे तो आपको विटामिन ए की मात्रा संपूर्ण रूप से प्राप्त हो जाएगी।

विटामिन ए के सेवन से आंख संबंधी समस्याएं जैसे आंखों में पानी आना या आंख का दुखना खत्म हो जाता है। शरीर में कमजोरी या कमजोरी इम्यूनिटी की समस्या भी खत्म हो जाती है। विटामिन ए के सेवन से स्किन संबंधी समस्याएं जैसे झुर्रियां और बेजानपन खत्म हो जाता है।

विटामिन D वाले फलों के नाम :-

जब भी विटामिन डी की बात आती है तो इसे शरीर की मांसपेशियों और हड्डियों को मजबूत करने के साधन के रूप में देखा जाता है। विटामिन डी आम, सिंघाड़ा, संतरा, आंवला आदि फलों में पाया जाता है।‌

क्या आपको पता है कि विटामिन डी सबसे ज्यादा किस फल में पाया जाता है?

संतरा, संतरे के जूस में सबसे ज्यादा विटामिन डी पाया जाता है और शरीर में कमजोरी होने पर विटामिन डी की पूर्ति के लिए पीड़ित व्यक्ति को संतरे का जूस ही दिया जाता है। इसके अलावा विटामिन डी की आपूर्ति के लिए धूप में बैठने की सलाह भी दी जाती है क्योंकि सूर्य की किरण शरीर पर पड़ने से हड्डियों और मांसपेशियों में जान आती है।

विटामिन डी का सामान्य रूप से सेवन करने से कमजोरी, थकान तथा हड्डियों में दर्द की समस्या खत्म हो जाती है। 

निष्कर्ष :-

इस आर्टिकल में हमने आपको फलों के नाम और मुख्य फलों के सेवन से स्वास्थ्य संबंधी लाभ की जानकारी दी है।

ऐसे ही जानकारी से भरपूर लेख पढ़ने और स्वास्थ्य संबंधित जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारे द्वारा लिखे गए आर्टिकल को पढ़े और हमारे वेब पोर्टल को फॉलो करें।

Leave a Comment

Your email address will not be published.