Birds Name in Hindi and English | 50 पक्षियों के नाम हिंदी में

आज का हमारा आर्टिकल Birds Name in Hindi है।

जब भी हम रोज सुबह उठते हैं तो हमारे आसपास कई तरह के पक्षी चाहे चाह रहे होते हैं। पक्षी का चहचहाना और सुबह की शांति एवं मंद हवाएं पूरे वातावरण को मनमोहक एवं शांतिमय बना देती है।

कुछ पक्षियों की आवाज इतनी मधुर होती है कि उन्हें सुनते ही मन शांत हो जाता है।

स्कूलों में छोटे बच्चों को पक्षियों के चित्र दिखाकर उन्हें पक्षियों के नाम और उनके बारे में बताया जाता है। बच्चों को चित्र दिखा कर पक्षियों के नाम से बताए जाते हैं ताकि वह पक्षियों को रंग रूप से पहचान सके।

हम भी आपको आज पक्षियों के नाम हिंदी में (पक्षियों के नाम हिंदी में Birds Name in Hindi) बताने जा रहे हैं और कुछ मुख्य पक्षियों से संबंधित अन्य जानकारी भी हासिल करेंगे।

Birds Name in Hindi

पक्षी कई तरह के होते हैं और कुछ पक्षी ऐसे होते हैं जो मुख्य जलवायु एवं मुख्य स्थानों पर ही पाए जाते हैं। ‌ कई बार सरकारी प्रतियोगिताओं एवं परीक्षाओं में भी चित्र के माध्यम से पक्षियों के नाम पूछ लिए जाते हैं इसीलिए यह जरूरी है कि आपको पक्षियों के नाम पता होना चाहिए। इसके अलावा यदि आप स्कूल में टीचर है तो आपको पक्षियों के नाम (Birds Name in Hindi) भली प्रकार मालूम होनी चाहिए ताकि आप बच्चों को आसानी से पक्षियों के चित्र दिखाकर पक्षियों के नाम बताने और उनसे संबंध जानकारी देने में सक्षम रहे‌।

Read Also- Flowers Name in Hindi and English

आइए पक्षियों के नाम (Birds Name in Hindi) जानते हैं-:

ENGLISHHINDI
COCKमुर्गा
CROWकौवा
CRANEसारस
DUCKबत्तख
CUCKOOकोयल
PIGEONकबूतर
HENमुर्गी
KITEचील
MYNAHमैना
SPARROWगोरैया
EGYPTIAN VULTUREसफेद गीद्ध
PARROTतोता
PEACOCKमोर
OWLउल्लू
SPANहंस
PARTRIDGEतीतर
WEAVER BIRDबया पक्षी
WOOD -PECKERकठफोड़वा
GREAT EGRETबगुला
PEAHENमोरनी
BLUE JAYनीलकंठ
HERONअंधा बगुला
PAINTED STORKकठसारंग
INDIAN ROBINकाली चिड़ी
COMMON HAWK-CUCKOOपपीहा
CHUKAR PATRIDGEचकोर
BLACK DRONGOकोतवाल
OSPREYमछली मार
PEREGRINE FALCONशाहीन
INDIAN BUSK LARKअगिया
NIGHTINGALEबुलबुल
ALEXANDRINE PARAKEETसिकंदर
EAGLEचील
WHITW EAGLEसफेद बाझ
DHANESH BIRDधनेश पक्षी
PEELपीलक
BATचमगादड़
KIWI BIRDकीवी पक्षी
PENGUINपेंगुइन
GARUDAगरूड़
CHATAKचातक
FLYमक्खी
WATERFOWLजलमुर्गी

ऊपर हमने कई प्रकार के पक्षियों के नाम बताए हैं।

आइए अब कुछ मुख्य पक्षी संबंधित जानकारी हासिल करते हैं।

मोर

  • साल 1963 में मोर को भारत का राष्ट्रीय पक्षी का दर्जा दे दिया गया था।
  • भारत के साथ-साथ मोर श्रीलंका का भी राष्ट्रीय पक्षी जाना जाता है।
  •  मोर मूल रूप से दक्षिण एशियाई देशों में पाया जाता है।
  • मोर खुले वनों और जंगलों में पाया जाता है। मोर पक्षी का रूप बहुत ही सुंदर एवं रंग-बिरंगे रंगों से मिलकर बना हुआ है।
  • यह अपनी खास विशेषता यानी की बारिश में पंख खोल कर नाचने से प्रसिद्ध है। यह ज्यादातर वर्षा वाले इलाकों में बारिश के मौसम में आसानी से दिखाई दे जाता है।

क्या आपको पता है कि मोर को क्या खाना पसंद है?

मोर को फल, कीड़े, छोटे सर्प एवं स्थानीय कीड़े मकोड़े खाना पसंद है।

मोर दक्षिण एशियाई देशों जैसे पाकिस्तान भारत और श्रीलंका में स्थित चिड़ियाघर और उद्यानों में पाया जाता है।

मुर्गी

  • मुर्गियां 24 तरह की विभिन्न प्रकार की आवाज निकाल सकती है और यह आपस में अलग-अलग आवाजों में बात करने के लिए प्रयोग करती है।
  • जंगली मुर्गी या प्राकृतिक वातावरण के कारण 11 साल तक जीवन बिता सकती है।
  • मुर्गियों की याददाश्त बहुत तेज होती है यह हर प्रकार की अपनी प्रजाति को पहचान जाती है।
  • वेटिकन सिटी और अंटार्कटिका में मुर्गियां नहीं पाई जाती है।
  • मुर्गियों को खेलना कूदना और धूप सेकना पसंद है।
  • मुर्गियां समय का अंदाजा लगा सकती है अतः इसके लिए वह सूर्य की रोशनी का सहारा लेती है।
  • इंसानों की तुलना में मुर्गियों के शरीर में 15% अधिक पानी होता है।
  • वर्ल्ड रिकॉर्ड के मुताबिक मुर्गी 1 दिन में अधिकतम 7 अंडे दे सकती है।

चिड़िया

  • चिड़िया को गौरया नाम से भी जाना जाता है और यह एक बहुत ही सुंदर पक्षी है।
  • यह पुराने समय में घर के आस-पास सुबह घर की मुंडेर पर अपनी अब मधुर आवाज में दिखाई दे जाती थी परंतु वर्तमान समय में यह विलुप्त होती जा रही है।
  • चिड़िया ज्यादातर झुंड में पाई जाती है।
  • चिड़िया ज्यादातर अपना घोंसला पेड़ पर या घर की मुंडेर या कोने पर ही बना लेती है।
  • प्रत्येक वर्ष 20 मार्च को गौरैया दिवस मनाया जाता है। बढ़ते शहरीकरण और पेड़ों की कटाई को रोकने के लिए तथा पंख वाले पक्षियों जैसे गोरेया एवं अन्य के बचाव के लिए यह दिवस मनाया जाता है।
  • चिड़िया को अनाज फूल और बीज खाना पसंद है।

तोता

  • तोता ऐसा पक्षी है जो अपने पैरों की सहायता से भोजन को अपनी चोंच तक पहुंचा कर खाता है।
  • तोता भी मनुष्य की तरह ही अपने बच्चों के नाम रखता है।
  • तोते की प्रथम एंटीबैक्टीरिया तत्व पाए जाते हैं।
  • तोते को हरी मिर्च खाना बहुत पसंद है।
  • तोता सभी पक्षियों में सबसे बुद्धिमान माना जाता है।
  • तोते को मनुष्य के समान पढ़ना, गिनना, रंगों और आकृतियों को समझना आदि से खाया जा सकता है और यह उसे याद भी कर लेता है।
  • तोता में कई प्रजातियां सी पाई जाती है जो मनुष्य की आवाज की नकल कर सकती है।
  • काकापो नामक तोता विश्व में पाए जाने वाला तोता प्रजातियों में से सबसे भारी है। यह लगभग 4 किलोग्राम वजन का होता है।
  • तोते मिलनसार स्वभाव के होते हैं।
  • तोता प्रजाति की सबसे विचित्र बात यह है कि यह एक टांग पर खड़े होकर सोते हैं।
  • तोते को संगीत बहुत पसंद होता है।
  • तोते की उम्र 30 से 70 साल होती है।
  • तोता एक बेवफा पक्षी भी माना जाता है क्योंकि यह एक बार पिंजरे से निकलकर उड़ जाता है तो यह अपने मालिक के पास दोबारा नहीं आता है।
  • विश्व में पाया जाने वाला सबसे हल्का तोता पिग्मी है। इसका वजन लगभग 10 ग्राम होता है।

निष्कर्ष :-

इस आर्टिकल में हमने आपको पक्षियों के नाम तथा पक्षियों से जुड़े तथ्यों के बारे में जानकारी दी है।

ऐसे ही जानकारी से भरपूर लेख पढ़ने के लिए हमारे बपोर्टल को फॉलो करें।

Leave a Comment

Your email address will not be published.