KGF Full Form in hindi-केजीएफ क्या है?

KGF Full Form

आज का हमारा आर्टिकल KGF Full Form है। इस आर्टिकल में हम आपको केजीएफ (KGF) से संबंधित सभी जानकारी देंगे।

KGF Full Form क्या है?

KGF Full Form Kolar Gold fields है। KGF का हिंदी अर्थ कोलार सोने के खेत है।

Kolar gold fields ( KGF) क्या है?

कोलार सोने के खेत भारत के कर्नाटक राज्य के कोलार में स्थित खनन सोने के क्षेत्र हैं। भारत के मुख्य सोने के क्षेत्र में इसका नाम प्रसिद्ध था परंतु 2001 में कई कारणों के चलते इसे बंद कर दिया गया था जिसमें मुख्य कारण 1900 से लेकर 2000 में की जानी वाली gold mining से है।

साउथ की मशहूर फिल्म का नाम कोलार सोने के खेत यानि KGF के नाम पर रखा गया था।‌ इस खदान के बारे में अगर विस्तार में जानने की कोशिश की जाए‌ तो आपको बता दें कि यह विश्व की सबसे गहरी दूसरी सोने की खदान में से एक है। केजीएफ फिल्म में खदान की वास्तविकता तथा इतिहास के लोगो का रहन सहन एवं पहनावा दिखाने के लिए फिल्म के लीड एक्टर यश ने 2 साल तक अपने बालों और दाढ़ी को फिल्म की वास्तविकता को बढ़ाने के लिए निश्चित रूप से बढ़ाया था।

KGF Gold mining का इतिहास

अंग्रेजों ने भारत पर लगभग 200 साल शासन किया और वह भारत को एक सोने की चिड़िया मानते थे तथा भारत से जरूरत की तथा महत्व रखने वाली हर चीज को वह अपने देश में स्थानांतरित कर देते थे। 1864 में अंग्रेजों के एक कार्यकर्ता मिशेल अल्फवेला को कोलार सोने की खेत खदान की जानकारी मिली तथा इस सूचना को उसने अपने बड़े अधिकारियों तक पहुंचाया।

अंग्रेजों ने खदान की महत्ता तथा सोने की इतनी मात्रा को देखते हुए इसे ठोस रूप में बदल कर विदेश स्थानांतरित करने की नीति बनाई परंतु इस खदान में शामिल सोने को प्राप्त करने के लिए एक बहुत बड़ी कठिनाई का सामना अंग्रेजों को करना पड़ा और वह यह थी कि कोलार सोने के खेत में मिलने वाला सोना किसी ठोस रूप में नहीं बल्कि चूर के रूप में वहां पर शामिल था।

अंग्रेजों ने एक नीति बनाई और बड़ी मशीनों को खदान के पास स्थापित किया परंतु अंग्रेजों की समस्या यहां खत्म नहीं होती क्योंकि बड़ी मशीनों को चलाने के लिए बिजली की जरूरत होती है तथा भारत में उस समय बिजली नहीं होती थी इसीलिए अंग्रेजों ने शिवाना समुद्र के ऊपर से बिजली को उत्पन्न करने का निर्णय लिया तथा इस तरह हाइड्रोक्लोरिक प्लांट का निर्माण हुआ।

हाइड्रोक्लोरिक प्लांट की स्थापना के बाद गोल्ड की माइनिंग शुरू हो गई। गोल्ड की माइनिंग अंग्रेज अधिकारी डोनल रॉबिंसन की निगरानी में हुआ करता था। हाइड्रोक्लोरिक प्लांट की स्थापना के बाद भारत विश्व में पहली हाइड्रोक्लोरिक प्लांट द्वारा इलेक्ट्रिसिटी जनरेट करने वाला देश बन गया था। वर्तमान में इस हाइड्रोक्लोरिक प्लांट को कावेरी प्लांट के नाम से जाना जाता है।

इस आर्टिकल में हमने आपको केजीएफ यानी कोलार सोने के खेत से संबंधित जानकारी प्रदान की है। जो लोग केजीएफ के इतिहास को जानने में इच्छा रखते हैं तो उनके साथ इस आर्टिकल को साझा करें। उम्मीद करते हैं आपको हमारा आर्टिकल पसंद आया होगा।

Latest Post-

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *