RBI Full Form in Hindi-आरबीआई क्या है?

RBI Full Form

आज का हमारा आर्टिकल RBI Full Form है। इस आर्टिकल में हम आपको RBI से संबंधित जानकारी देंगे।

RBI Full Form क्या है?

RBI Full Form Reserved Bank of India है। RBI का हिंदी अर्थ भारतीय रिजर्व बैंक है।

RBI क्या है?

यह भारत का केंद्रीय बैंक है जो राज्य स्तर पर स्थित सरकारी एवं निजी बैंकों को दिशा-निर्देश जारी करता है तथा अंतरराष्ट्रीय स्तर पर वित्तीय लेनदेन एवं देश के अंतर्गत होने वाले सभी प्रकार के वित्तीय रिकॉर्ड की रिपोर्ट रखता है। भारतीय रिजर्व बैंक का भारतीय अर्थव्यवस्था में महत्वपूर्ण स्थान है तथा यह भारतीय अर्थव्यवस्था की आर्थिक कड़ी को मजबूत बनाता है।

भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा भारतीय मुद्रा का निर्माण किया जाता है तथा राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर इस मुद्रा का वाहन भी RBI के द्वारा किया जाता है। भारतीय रिजर्व बैंक के देश में कुल 29 राज्य स्तर कार्यालय है। आम जनता भारतीय रिजर्व बैंक में प्रत्यक्ष रूप से प्रवेश नहीं कर सकती है।

भारतीय रिजर्व बैंक का हेड क्वार्टर मुंबई में स्थित है तथा वर्तमान में इसके गवर्नर शक्तिकांत दास है। भारतीय रिजर्व बैंक की स्थापना ब्रिटिश काल में सन 1937 में कोलकाता राज्य में हुई थी परंतु भारत की आजादी के पश्चात इसका राष्ट्रीयकरण हुआ तथा डॉक्टर भीमराव अंबेडकर के दिशा निर्देश में 1 जनवरी 1949 को भारतीय रिजर्व बैंक पुनः स्थापित हुआ अतः इसके बाद से भारतीय रिजर्व बैंक पूर्ण रूप से भारत के अंतर्गत कार्यशील हो गया और भारत का अपना बैंक कहलाया।

RBI के कार्य क्या है?

भारतीय रिजर्व बैंक मुद्रा का निर्माण करने के साथ-साथ निम्नलिखित रूप से भी कार्य करता है-:

बैंकों का बैंक

रिजर्व बैंक ने वाणिज्यिक बैंकों के लिए उसी भांति काम करता है जिस तरह अन्य वाणिज्य बैंक जनता के लिए कार्यरत होते हैं। जैसे राज्य स्तर पर सरकारी एवं निजी बैंक जनता को बैंक संबंधित सभी सुविधाएं जैसे लोन उपलब्ध कराना या खाताधारक द्वारा बैंक से ऋण लेना आदि प्रदान करते हैं ठीक उसी प्रकार आरबीआई भी अपने बैंकों को पैसे उधार देता है। एक निश्चित अवधि के काल में अनैतिक बैंक आरबीआई द्वारा दिए गए लोन या पैसों को ब्याज के साथ चुकता कर देते हैं।

बैंकों का ऋणदाता

भारतीय रिजर्व बैंक अपने अंतर्गत कई बैंकों के खाते खोलकर रखता है ताकि जब बैंक का दिवाला निकले या वह संकट में हो तो आरबीआई ऋण दाता के रूप में उस बैंक की सहायता करें और सभी खाताधारक के पैसे उन्हें वापस मिल सके। आरबीआई के इस कार्य से आम जनता का उनके बैंक पर विश्वास बना रहता है तथा उन्हें अपने पैसों की सुरक्षा का आश्वासन भी मिल जाता है।

नोट जारी करना ‌

आरबीआई विश्व भर में भारतीय नोटों को जारी करने का कार्य करता है तथा यह सभी नोटों की छपाई एवं जारी करने के लिए न्यूनतम रिजर्व प्रणाली का उपयोग करता है। आरबीआई ₹1 के नोट की छपाई नहीं करता है क्योंकि ₹1 का नोट केवल वित्त मंत्रालय द्वारा जारी किया जाता है। भारतीय रिजर्व बैंक के कार्यों में यह सबसे महत्वपूर्ण कार्य तथा भारतीय नोट जारी करने का अधिकार केवल भारतीय रिजर्व बैंक को है।

इस आर्टिकल में हमने आपको आरबीआई से संबंधित जानकारी दी है।‌ उम्मीद करते हैं आपको हमारा आर्टिकल पसंद आया होगा।‌

Latest Post-

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *