Web hosting kya hai-वेब होस्टिंग कैसे work करती है?

Web hosting kya hai

क्या जानते है कि Web hosting kya hai? वेब होस्टिंग का संबंध internet सेवा से है यह एक प्रकार की internet service है जो आपने उपभोक्ताओं को उनके Blog/website को internet पर upload करने की सुविधा प्रदान करती है।Website को सही रूप से internet सुविधा प्रदान करते रहना और उसे  24 घंटे चालू रखने का कार्य web hosting के द्वारा ही किया जाता सकता है। अगर आप blogger है या blog बनाने जा रहे है तो आपको अपने सभी contents को upload करने, और अपने photo, videos, file आदि को दूसरे लोग देखने के लिए access कर पाने के लिए Web server पर store करके रखना आवश्यक होता है। 

Web hosting kya hai?

Web hosting kya hai

Web-hosting के कार्य:

Website hosting का मुख्य कार्य हमारी website को 24 घंटे internet से connect रखने के लिए किया जाता है। ऐसा इसीलिए आवश्यक है ताकि जो भी व्यक्ति आपकी website पर पहुंचे उसे Website content load करने में दिक्कत न हो। इसके लिए हमे एक powerful internet server की आवश्यकता होती है ताकि website हर समय उपलब्ध रह सके।  Website hosting के माध्यम से website को Powerful server मिल जाता है जिससे उसे run करने में दिक्कत नहीं होती है। website hosting लेने का मुख्य कारण powerful server उपलब्ध न हों पाना है।

स्वंय के server से हमे website को run करवाने के लिए अधिक खर्च करना पड़ जाता है।  Website hosting लेने के लिये आप अपने पास की किसी भी company से अपनी सुविधा के अनुसार Service ले सकते है। Company से website hosting लेने का बड़ा फ़ायदा है कि आपको ज्यादा खर्च नहीं होता और powerful server सुविधा मिल जाती है।

Website Hosting (web-hosting) 4 प्रकार की हो सकती है आप अपनी सुविधा से कोई भी web hosting service ले सकते है।

Shared Web-hosting –

 इस प्रकार की web hosting का कई websites को एक साथ run करने के लिए की जाती है। इसमें एक ही server से 1 से अधिक websites को host किया जाता है। इस प्रकार की hosting का फायदा उन लोगों को हो सकता है जिन्होंने अपना blog या website नई शुरू की हो। यह सस्ती होने के साथ आपके शुरुआती blog को संभालने में सक्षम हो सकती है।

Dedicated Web-hosting-

इस प्रकार की hosting का फायदा यह होता है कि यह सिर्फ आपकी website से ही connect रहती है और केवल आपके Server को host करती है। अधिक cost होने के कारण इसकी hosting लेना कठिन हो सकता है। अगर आपका blog/ website बड़ा है और उस पर traffic बहुत अधिक आता है तो आप इस hosting को ले सकते है। इससे आपकी website को सही रूप से चलने में दिक्कत नहीं आएगी साथ ही आप इसकी settings में भी बदलाव कर पाएंगे। 

VPS Web-hosting-   

VPS web-hosting का पूरा नाम virtual private server होता है। जैसा कि नाम मे बताया गया है यह एक private server होता है जो कि virtual form में एक Dedicated Server है। यहां पर Virtualका मतलब केवल यही है कि आपको इसमें dedicated server दिया जाता है जिसे अलग अलग virtual connections में बांट दिया जाता है।Virtual private server (VPS) hosting का उपयोग वे blogger/website owner कर सकते है जिनकी sites पर traffic कम आता है और छोटी websites है।

Cloud Web-hosting-

इस प्रकार की hosting में dedicated server की तरह एक server से आपकी website को handle नहीं किया जाता है। Cloud web-hosting में एक से अधिक servers के द्वारा आपकी website को host किया जाता है। इससे आपकी website पर आने वाले अचानक से बड़े traffic को control किया जा सकता है। इस प्रकार की hosting का उपयोग कोई organization या website owner ले सकते है जिनकी website पर अचानक से traffic बढ़ने की दिक्कत होती हैं।

Latest Post-


Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *